पराई स्त्रियों पर बुरी नज़र डालने का फल जान लीजिए

0
according-to-ethology-you-should-know-if-you-tease-women-1

according-to-ethology-you-should-know-if-you-tease-women-2

वैसे तो किसी से भी सम्भन्ध बना लेना आज कल के युवाओं के लिए बहुत छोटी सी बात होती है लेकिन आप जानते नहीं इसके बारे में हमारे शास्त्रों में क्या लिखा गया है | वैसे तो शास्त्रों में बहुत सारे गृहस्थ जीवन के बारे में सुझाव दिए गए है जिनमें बताया गया है की आपके द्वारा किये जाने वाले अचे बुरे कर्मो का क्या फल मिलता है | शास्त्रों के अनुसार किसी पराई औरत के साथ गलत काम (सम्भोग) करना बहुत बड़ा पाप है और ऐसे इंसान सीधा नर्क जाने के लिए त्यार रहे |


वही दूसरी और अगर आप किसी पराई औरत को लेकर गलत सोचते है (सम्भोग के बारे में) या फिर कहिये की उसपर गलत नज़र रखते है तो भी आप नर्क जाने के लिए त्यार रहे |जो लोग अपने धर्म, अपने पितरों, यां फिर अपने देवी देवताओं का अपमान करते है वो लोग मूर्छित कहलाते है और इन्हे भी नर्क हासिल होता है | शास्त्रों के अनुसार उस नर्क में आपके कर्मों और कुकर्मों के हिसाब से आपको सज़ा मिलती है जिसकी अवधि भी आपके कुकर्मों के आधार पर तय होती है |

गरुड़ पुराण के हिसाब से जो इंसान किसी पराई स्त्री या पराये पुरुष के साथ सम्बन्ध बनाते है उनलोगो के लिए यमराज ने बहुत कठोर दंड निर्धारित किया है | ऐसे स्त्री और पुरुष की जीवात्मा को दहकते हुए लोहे के खम्बे का आलिंगन करवाया जाता है | जिससे दोषी स्त्री और पुरुष की जीवात्मा का शरीर बुरी तरह से जल जाता है | तब उस जीवात्मा को एहसास होता है की उसने किसी पराई स्त्री या पुरुष से सम्भन्ध क्यों बनाया था |

according-to-ethology-you-should-know-if-you-tease-women-3

लेकिन यह आलिंगन सिर्फ एक बार नहीं होता बल्कि आपके पापों की संख्या तय करती है की इसका आलिंगन कितनी बार होगा |जो स्त्री अपने पति को छोड़ दूसरे पुरुष से सम्बन्ध बनाती है उसे सज़ा पूरी होने के बाद चमगादड़, दो मुहे सांप अध्वा छिपकली का जन्म मिलता है | जो पुरुष अपने ही गोत्र में किसी स्त्री से सम्भन्ध बनाता है उसे लकड़बग्गा या फिर शाही के रूप में जन्म लेना पड़ता है |


जो लोग अल्पआयु या फिर कुवारी लड़की या लड़के से सम्बन्ध बनाते है उन्हें नर्क की कड़ी यातनाएं सहने के बाद अज़गर की योनि में जन्म लेना पड़ता है | जो इंसान अपने गुरु की पत्नी का मान भांग करता है (बलात्कार) करता है उसे सालों तक नर्क में यातनाएं झेलने के बाद गिरगिट की योनि में जन्म लेना पड़ता है | मनुस्मृति में कहा गया है की मनुष्य को खुद पर काबू करना चाहिए और पराई स्त्री या पुरुष के साथ संभंद बनाने से बचना चाहिए |

जो लोग अपने गुरु की पत्नी के साथ संभंद बनाते है उन्हें आग में लाल हुई लोहे की मूर्ति से आलिंगन करवाया जाता है जब तक आग जीवात्मा को शुद्ध न करदे |

तो यह थी हमारे पुराणों में लिखी हुई कुछ ऐसी सजाएं अगर आप भी हिन्दू धर्म में अटूट विशवास रखते है तो इन्हे पढ़ने के बाद उम्मीद करते है आज के बाद आप पराई स्त्री या पुरुष के साथ सम्भोग तो दूर उसे गन्दी नज़र से भी नहीं देखेंगे |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here