UN में आतंकी मसूद अज़हर को फिर से मिला चीन का साथ

0
china-again-blocks-proposal-to-designate-masood-azhar-as-global-terrorist-1

china-again-blocks-proposal-to-designate-masood-azhar-as-global-terrorist-3

जैश ए मोहम्मद के प्रमुख और पठानकोट आतंकी हमले के मास्टरमाइंड मसूद अजहर को UN में फिर से चीन का साथ मिल गया हैं | संयुक्त राष्ट्र द्वारा मसूद अजहर को आतंकी सूची में डालने को लेकर अमेरिका, ब्रिटेन फ्रांस के प्रस्ताव को चीन ने अपनी पावर के इस्तेमाल से तीन माह के लिए आगे बढ़ा दिया हैं |




मसूद अजहर को फरवरी के महीने चीन ने संयुक्त राष्ट्र की वैश्विक आतंकी सूची में आतंकी मसूद अजहर के नाम को डालने पर रोक लगा दी थी | जिसके चलते चीन के पास UN में तकनीकी रोक लगाने की समय सीमा दो अगस्त की थी |

अगर चीन अपनी वीटो पावर का गलत इस्तेमाल करके इस रोक को बढ़ाया न होता तो मसूद अजहर अब UN की आतंकी लिस्ट में शामिल होता | यह पहली बार नहीं हैं की चीन अपनी वीटो पावर का इस्तेमाल आतंकियों की मदद के लिए कर रहा हैं |

china-again-blocks-proposal-to-designate-masood-azhar-as-global-terrorist-2

पिछले साल 15 देशों की समिति में केवल चीन ही एकलौता देश था जिसने भारत के उस अनुरोध पर रोक लगवा दी थी जिसमे भारत ने सुरक्षा परिषद के सामने प्रस्ताव रखा था की मसूद अजहर की सारी जायदाद कुर्क हो जाये और उसपर यात्रा प्रतिबन्ध लगा दिया जाये जबकि 14 देश भारत के पक्ष में थे |

वही भारत ने भी साफ़ कर दिया हैं की वो आतंकवाद के मुद्दे को आसानी से छोड़ेगा नहीं सुरक्षा परिषद के सामने वो ऐसे मुद्दे हमेशा उठाता रहेगा और आतंकवाद क्या हैं कौन कौन उसके साथी हैं और इसको ख़तम कैसे किया जा सकता हैं वो इन सभी मुद्दों को हर मंच पर उठाता रहेगा |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here