दिग्विजय सिंह ने मोदी जी और उनके समर्थकों को कहां चूतिया

1
digvijay-singh-abusing-tweet-to-modi-and-her-supporters-1

digvijay-singh-abusing-tweet-to-modi-and-her-supporters-2

देश में विपक्ष अपनी राजनीती के स्तर को इतना निचे गिरा चूका है की अब वो शब्दों की मर्यादाओं को भूल गए है | हैरानी की बात यह है की कांग्रेस के बड़े से लेकर छोटे मोटे पार्टी के कार्यकर्त्ता सीधा देश के प्रधान मंत्री को गाली दे देते है और फिर कहते है देश में बोलने की आज़ादी नहीं है |


ऐसे ही एक कांग्रेस के नेता है दिग्विजय सिंह ऐसे तो इन्होने ने बहुत काण्ड किये है जिसमे अपनी बीवी और शादी शुदा बच्चे के बाप होते हुए पराई औरत से फिर शादी कर ली | ऐसे तो कांग्रेस और कांग्रेस द्वारा हफ्ता पाने वाले पत्रकार यह आरोप लगाते है की मोदी गाली देने वाले इंसान को फॉलो करते है |

मैं दुखी हूं कि मोदी जैसा गुंडा मेरा प्रधानमंत्री है : रविश कुमार

पर कहते है दिए के निचे अँधेरा होता है और उसके निचे दिखाई नहीं देता वैसे ही कांग्रेस के बड़े नेता और कांग्रेस के टुकड़ो पर पलने वाली मीडिया मोदी जी को सीधा गाली देती है लेकिन उन्हें यह सब दिखाई नहीं देता |

दिग्विजय सिंह ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट ट्विटर पर ट्वीट किया और कहा “मोदी लोगो को चूतिया बनाते है और चूतिया लोगो को भक्त” बनाते है | कांग्रेस चाहती तो पिछले तीन सालो पर में मोदी जी माँ, मोदी जी की बीवी, मोदी जी का सूट, मोदी जी की यात्रा को छोड़ कर अपने द्वारा किये गए देश हित के कामो का प्रचार करती |


कांग्रेस ऐसा नहीं कर सकती थी क्योंकि वो प्रचार में एक लेख लिखते उसके बदले में दस घोटाले सामने आ जाते तो उन्होंने सत्ता में बैठी मोदी सरकार और मोदी पर आपत्तिजनक टिप्णिया करना ही सही समझा |

सबसे बड़ी बात है की कांग्रेस अपनी विदेशी बार डांसर के पल्लू में छुप कर मुँह हिला देगी की कांग्रेस का उनके ब्यान से कोई लेना देना नहीं है | लेकिन फिर उसके बाद उनपर किसी तरह की कोई कार्यवाही नहीं करेगी |

जब बात होगी मीडिया में आएगी और फिर कांग्रेस के प्रवक्ता टी वी चैनल्स पर बैठ कर बोलेंगे देश में बोलने और लिखने की आज़ादी नहीं है | अब कोई पूछे आप सीधा प्रधान मंत्री और उनके सुप्पोर्टस को चूतिया बोल देते हो, और इसे भी तुम कहते हो बोलने की आज़ादी नहीं है |

You May Also Read
Loading...

1 COMMENT

  1. i remember the time when all so called secularist were returning their awards saying that india has become intolerant.
    after listening digvijay singh & ravish kumar remarks for our PM, where are those BASTARDS
    gone ?????????????

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here