मैं दुखी हूं कि मोदी जैसा गुंडा मेरा प्रधानमंत्री है : रविश कुमार

7
i-am-sad-that-a-modi-like-don-is-my-prime-minister-ravish-kumar-3

within-24-hours-the-new-twist-in-the-murder-of-gauri-lankesh-3जैसा की हम सब जानते है की मंगलवार को पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या उनके घर के बाहर गोली मार कर दी थी | गौरी लंकेश ने कन्नड़ साप्ताहिक पत्रिका में केंद्र सरकार के विरोध में लगभग आठ लेख पिछले तीन महीनो में लिखे थे |



लंकेश ने अपने आखिरी साप्ताहिक स्तम्भ में गोरखपुर में हुई बच्चों की मौत पर कफील खान को हटाए जाने के बारे में विरोध किया था | हत्या से 24 घंटे पहले तक उन्होंने नोटेबंदी के नुक्सान, रोहिंगियों को शरण देने को लेकर, समलैंकिंग को लेकर जागरूत करने वाले पोस्ट शेयर किये थे |

पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या के बाद देश की राजनीती का पारा तो चढ़ा ही साथ में पत्रकारों का जमावड़ा भी गुस्से से भर गया | कल शाम को श्रद्धांजलि देने के लिए पत्रकार एक साथ दिखे साथ में विरोधी पार्टियां भी थी |

इन सबने राज्य की कांग्रेस सरकार और उसके कानून वयव्स्था पर सवाल नहीं किये बल्कि सीधा मोदी सरकार यानि केंद्र को हत्यारा घोषित करने में कोई कसर नहीं छोड़ी | सब विरोधी पार्टिया और पत्रकार ऐसे तो एक साथ मंच पर गौरी लंकेश को श्रद्धांजलि देने आए थे लेकिन उन्होंने मंच को बीजेपी को दोषी बनाने के लिए इस्तेमाल किया |
i-am-sad-that-a-modi-like-don-is-my-prime-minister-ravish-kumar-2इस प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान ऐसे तो बहुत बड़े-बड़े पत्रकार मौजूद थे लेकिन उनमे से एक थे NDTV के पत्रकार रविश कुमार | रविश कुमार ने इस हत्या को लेकर सीधा मोदी जी को निशाना बनाते हुए उन्हें गुंडा तक कह दिया |

इससे पहले जब किसी ने गौरी लंकेश को कुतिया कह दिया था तो रविश कुमार बहुत गुस्सा हुए थे की मोदी एक ऐसे इंसान को फॉलो करते है जिसे बोलने की तमीज़ नहीं है | तो देश के प्रधान मंत्री को गुंडा कहना कहा की तमीज़ है ? ऐसी तालीम कहा मिलती है ?



अब आप बताये खुद देश के प्रधान मंत्री को नेशनल टी वी पर गुंडा कह देते है और फिर कहते है देश में बोलने की आज़ादी खत्म हो गई है | वैसे गौरी लंकेश को कुतिया कहने वाले पर रविश कुमार को भड़कना नहीं चाहिए क्यूंकि उन्होंने भी देश के प्रधान मंत्री को गुंडा बोलै है |

24 घंटे के अंदर गौरी लंकेश की हत्या में आया नया मोड़

दोनों एक जैसे कसूरवार है दोनों में कोई अंतर नहीं है एक ने कुतिया कहा और एक ने गुंडा, शब्दों की मर्यादा दोनों में से किसी के पास नहीं है |

लेकिन जिस तरह से गौरी लंकेश की हत्या के बाद विरोधी पार्टियां इसे गिद्ध की नज़रो से देखते हुए मोदी सरकार पर निशाना साध रही है तो ऐसे लगता है की यह हत्या राजनीती फायदे के लिए भी हो सकती है | आपको क्या लगता है कमेंट में जरूर बताना |

7 COMMENTS

  1. Speak with reference is legal requirement. Ravish ji, you are first journalist. Do not support prematurely.
    Indeed murder of leftist lady journalist is brutal & deserves death .
    Hurry also takes time. Investigation has begun. It is state issue and your shame to PM is your paper viewpoint and you have been misused.

  2. देख शहादत सैनिक की जो, डायन जश्न मनाती थी ।
    अंत हुवा है उस कुतिया का, जो नोच वतन को खाती थी॥

  3. When we see such comments from a senior journalist we compelled to compare ravish nd Digvijay Singh.A mad nd frustrated leader of congress.in democracy opinion may differ but language must be balanced.
    We donot expect this language from a journalist like Ravish.

  4. Ravish u maybe a great journalist but u have shown UR mean mentality.Who the hell are you to talk like this for a person holding the highest post in the country. This is not true journalism.

  5. RAVISH JEE, MAN OF YOUR STATURE CAN TALK SUCH AFILTH, IS NOT UNDERSTOOD.
    YOU MAY HAVE ANY DIFFRENCE WITH ANY BODY IN THOUGHT ACTION OR DEED, YOU HAVE NO MORAL STANDING TO USE THE FILTHY LANGUAGE SPECIFICALLY PM OF COUNTRY.
    HOW THE HELL YOU COULD DELIVER SUCH A VERDIC. IS NOT THE LAW AND ORDER STATE SUBJECT. THEN ,HO PM CAME INTO PICTURE. PL PONDEROVER.DO NOT HAVE BIASED ATTITUDE. MAY BE YOU MUST BE HAVING ELEGANCE WITH SOME OR OTHER. BUT NOT TO THIS LEVEL HAVE YOU EVER TALKED ABOUT MURDERS COMMITTED IN KERALA OR SIME OTHER PLACES . REMOVINF RAIL LENTH AND KILLING UNCOUNTABLE NUMBER OF PEOPLE JUST TO MALIGN THE GOVT OF DAY.

  6. रबिश कुमार है मोदी जी से बिमार
    पर ये पक्का है बेवकुफो का सरदार

  7. Tere.yesa.chutiya.patrkar.nahi…modi.sab.jemeda..keral.me.hindu.mare.jate.hai.to.tu.kaha.sota.hai.nalyak….cogrshi.sarkar.vaha.kya.kar.rahi.sale.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here