जाने क्या हुआ एेसा कि इंजीनियर से बन गयी कॉलगर्ल

0
know-to-why-engineer-choose-this-profession-1
Loading...

know-to-why-engineer-choose-this-profession-2

कहते है मजबूरी का नाम महात्मा गाँधी होता है और इसी मजबूरी के चलते कई बार आपकी इज्जत, मान, पैसा, घर और परिवार सबकुछ दांव पर लग जाता है | ज्यादा तर लोग अपने महंगे शौंक के पुरे करने के चलते इन सब चीज़ों को दांव पर लगा देते है |


ऐसा ही कुछ हुआ एक लड़की के साथ और वो लड़की इंजीनियरिंग की पढ़ाई पूरी करने के बावजूद अपने शौंक को पूरा करने के लिए जिमफिरोशी के धंदे में चली गयी | इस बात का पता तब चला जब यह लड़की श्यामपुर इलाके के पुलिस के हाथे चढ़ गयी |

पकडे जाने के बाद लड़की ने पुलिस को जो बताया उसको सुनाने के बाद पुलिस वाले भी दंग रह गए | श्यामपुर क्षेत्र के गांव कांगड़ी में प्रॉपर्टी डीलर इरशाद अहमद के घर पर मानव तस्करी के दस्ते की पुलिस ने छापा मार कर चल रहे सेक्स रैकेट का भंडाफोड़ किया |

पुलिस ने बहुत से लोगो और युवतियों को हिरासत में लिया लेकिन पूछताछ में पता चला की उनमे से एक लड़की इंजीनियर है और सिडकुल की एक औद्योगिक इकाई में कार्य करती है | वो युवती अपने घरवालों से संपर्क में नहीं थी और सुभाषनगर में किराए के घर पर रहती थी |

know-to-why-engineer-choose-this-profession-3

लड़की ने इंजीनियर की पढ़ाई ख़तम कर उसने जॉब स्टार्ट कर दी थी लेकिन इस जॉब के पैसों से जरूरते पूरी होती थी लेकिन मुझे सिर्फ जरूरते नहीं बल्कि अपने सपने भी पुरे करने थे | जिसके लिए मैंने जॉब के साथ साथ यह जिस्मफिरोशी का रास्ता चुना और अच्छे पैसे कमाने लगी |

युवती की जान पहचान फैक्ट्री स्वामी योगेंद्र धीमान के मालिक से भी होने की खबर है | जिसके बाद ही वह प्रॉपर्टी डीलर के घर गयी थी, और इस धंदे में उतरी थी | जिस घर में सेक्स रैकेट चला करता था वह फैक्ट्री मालिक का अच्छा दोस्त बताया जा रहा है |

बात और बेचिदा तब बन जाती है जब पता चलता है की सेक्स रैकेट चलाने वाले व्यक्ति के एक काबीना मंत्री के साथ भी अच्छे संभंध है | जिसके बाद पता चला की प्रॉपर्टी डीलर का यह घर सिर्फ अयाशी के लिए इस्तेमाल किया जाता था |

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here