इन पांच देशों के स्कूलों में दी जाती है अजीब सजा

0
these-five-countries-are-given-strange-punishment-in-schools-1
Loading...

these-five-countries-are-given-strange-punishment-in-schools-2

वैसे तो स्कूल पढ़ने और पढ़ाने वाली जगह होती है | लेकिन अगर कोई बच्चा गलतियां करता है तो उसे सजा भी दी जाती है ताकि वो दुबारा गलती न करे | लेकिन आज हम आपको ऐसे 5 देशों के बारे में बताने जा रहे है जहां विद्यार्थियों को सजा के नाम पर टॉर्चर किया जाता है |

इन देशों में सजा के नाम पर अजीबों गरीब नियम बनाये गए है जिसकी कल्पना आप और हम सपने में भी नहीं कर सकते | तो चलिए आपको बताते है की कैसे दी जाती है इन देशो में विद्यार्थियों को सजा |

हाथो के बल उल्टा लटका देना

एशिया के स्कूलों में सजा के नाम पर किया जाने वाला टॉर्चर पुरे विश्व में बदनाम है | जैसे चीन में अगर कोई बचा लेट स्कूल अत है तो उसे हाथों के बल उल्टा लटका दिया जाता है | अगर कोई बच्चा क्लास में अपने सहयोगी विद्यार्थी से बात चीत करता पकड़ा जाता है तो उसे हाथ सीधे करके खड़ा रहना पड़ता है |

बेस्ट फ्रेंड बनाने से मनाही

इंग्लैंड के स्कूलों में किसी भी विद्यार्थी को किसी बच्चे का बेस्ट फ्रेंड नहीं बनने दिया जाता | इंग्लैंड के स्कूलों का मानना है की अगर कोई बच्चा किसी एक या दो बच्चो से अपनी गहरी दोस्ती कायम करेगा तो वह बाकी बच्चों से बात चीत करना बंद कर देगा, जिससे उसके मानसिक और सामाजिक विकास पर गहरा प्रभाव पड़ेगा |

these-five-countries-are-given-strange-punishment-in-schools-3

बालों को रंग करना से मनाही

जापान के स्कूल, कॉलेज और यूनिवर्सिटी में यानी जब तक आप विद्यार्थी है आप अपने बालों पर रंग नहीं लगा सकते |

परफ्यूम और डिओडरंट लगाने से मनाही

आपको बताना चाहेंगे की पेंसिल्वेनिया में विद्यार्थियों को परफ्यूम या डिओडरंट लगाने की सख्त मनाही है | स्कूल वालों का मानना है की कई बार विद्यार्थी इतना ज्यादा डिओडरंट और परफ्यूम लगा लेते है जिससे आस पास में बैठे बच्चो को एलेर्जी हो जाती है |

टॉयलेट जाने से मनाही

क्या आप जानते है दुनिया में एक ऐसी जगह भी है जहां पर आप पुरे सेमेस्टर में सिर्फ तीन बार क्लास को बीच में छोड़कर टॉयलेट जा सकते है, जी हां हम बात कर रहे है शिकागो की जहां केवल आप यह रूल फॉलो करना पड़ता है |

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here