2019 में जीते तो बनाएंगे बाबरी मस्जिद कांग्रेस

0
what-has-the-congress-to-do-with-2019-elections-1
Loading...

what-has-the-congress-to-do-with-2019-elections-2

आज राम मंदिर को लेकर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हुई थी, जिसमे मुस्लिम पक्ष के मुख्य वकील कपिल सिब्बल खान का कहना है की राम मंदिर की सुनवाई जुलाई 2019 तक ताल दी जाये | अभी राम मंदिर की सुनवाई की कोई भी जरुरत नहीं है |

आपको शायद पता न हो की सुन्नी वक्फ बोर्ड यानि मुस्लिम पक्ष के ऐसे तो बहुत सारे वकील लड़ रहे है, लेकिन उनके मुख्य वकील कांग्रेस के दिग्गज नेता कपिल सिब्बल खान ही है | कांग्रेस ने अपने सबसे दिग्गज वकील को मुसलामानों के लिए बाबरी मस्जिद के पक्ष और राम मंदिर के खिलाफ उतारा है |

कांग्रेस नेता किसी भी तरह से राम मंदिर को बनने नहीं देना चाहते, यह लोग केस को सालों-साल लटका कर रखना चाहते है | कांग्रेस चाहती है की कुछ भी हो जाये वहां पर बाबरी मस्जिद बनाकर हम अपना मुस्लिम वोट-बैंक बरकरार रख सके |

what-has-the-congress-to-do-with-2019-elections-3

अब समझो की कांग्रेस 2019 में ऐसा क्यों होने देना चाहती है, मान लो अगर 2019 में कांग्रेस अपनी सरकार बना लेती है और सुप्रीम कोर्ट फैसला राम मंदिर के पक्ष में लेता है तो कांग्रेस उस फैसले को वैसे ही पलट देगी जैसे शाहबानो के केस को राजीव गाँधी ने पलट दिया था |

अभी राम मंदिर के पक्ष में बहुत सारे एहम सबूत मजूद है, जिसमे सबसे जरुरी सबूत पुरातत्व विभाग के है | शिया वक्फ बोर्ड पहले से राम मंदिर को स्वीकार कर चूका है और यह मान चूका है की बाबर के कहने पर मेरे बांकी ने राम मंदिर तोड़कर मस्जिद बनाई थी |

what-has-the-congress-to-do-with-2019-elections-4

कांग्रेस को पता है की सारे सबूत राम मंदिर के पक्ष में है इसलिए सुनाई होती रही तो जजों को राम मंदिर के पक्ष में ही फैसला सुनाना पड़ेगा | फैसला बीजेपी के राज में आया तो वो उसी दिन राम मंदिर का निर्माण शुरू कर देंगे |

वही अगर यह फैसला कांग्रेस के राज में आता है तो वो संसद में बिल लाकर सुप्रीम कोर्ट का फैसला पलट देंगे और वहां राम मंदिर नहीं बनने देंगे | कांग्रेस नेता ऐसे भेड़िये है जो ऊपर से बकरी की खाल पहन कर हिंदुवो को बेवकूफ बनाते आये है |

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here